Solar Rooftop Subsidy Yojana: सब कुछ जानें

Photo of author

By Sankar

सोलर छत पर अनुदान योजना:

केंद्र सरकार ने सोलर छत पर अनुदान योजना की शुरुआत की है जिसका उद्देश्य उपभोक्ताओं को सोलर छत स्थापना पर अनुदान प्रदान करके नवीनीकरणीय ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित करना है। इस योजना के तहत, सोलर पैनल घरों, संस्थानों की छतों पर लगाया जाते हैं, जो केवल विद्युत उत्पादन करते हैं बल्कि पर्यावरण के प्रति भी काफी अच्छा होते हैं।

इस योजना के अंतर्गत, सरकार छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए विभिन्न अनुदान और वित्तीय सहायता प्रदान करती है। अनुदान भारत के विभिन्न राज्यों और क्षेत्रों के आधार पर भिन्न हो सकता है। इस योजना का एक महत्वपूर्ण लाभ यह है कि यह न केवल विद्युत लागत को कम करता है बल्कि अतिरिक्त विद्युत को ग्रिड को वापस बेचने का विकल्प भी प्रदान करता है, जिसे नेट मीटरिंग के रूप में जाना जाता है।

अगर आप योजना के अंतर्गत उपलब्ध अनुदान राशि के पूरा विवरण जानना चाहते हैं, तो आपको हमारे लेख को अंत तक पढ़ना होगा। हमने विस्तार से बताया है कि सोलर पैनल स्थापित करने पर अनुदान राशि से आप कैसे लाभान्वित हो सकते हैं।

Solar Rooftop Subsidy Yojana 2024 | सोलर छत पर अनुदान योजना

सरकार सोलर पैनल स्थापित करने के लिए सब्सिडी राशि प्रदान कर रही है ताकि देश में रहने वाले अधिक नागरिकों को अपनी छतों पर सोलर पैनल स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। सरकार नवीनीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा देने का उद्देश्य रखती है, इसलिए वह सभी नागरिकों को सोलर पैनल स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करती है।

सोलर छत योजना की शुरुआत से ही, अपनी छतों पर सोलर पैनल स्थापित करने वाले घरों को सब्सिडी, साथ ही electricity bills पर छूट प्राप्त होती है। यह इसलिए है क्योंकि सोलर पैनल सूरज से ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करते हैं, जिससे आप आसानी से अपने electricity bills पर बचत कर सकते हैं।

सोलर छत पर अनुदान योजना के तहत, यदि आप भी अपनी छत पर सोलर पैनल स्थापित करना चाहते हैं, तो सरकार 3 किलोवाट क्षमता के सोलर पैनल स्थापित करने पर 40% अनुदान प्रदान करेगी और 500 किलोवाट के लिए 20% अनुदान प्रदान करेगी। सोलर प्लांट को खुद इंस्टॉल करें या   RESCO Model (Renewable Energy Service Company) में इंस्टॉल करें और डेवलपर आपकी जगह में निवेश करेगा। 1kw सोलर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर की जगह की आवश्यकता होती है।

RESCO मॉडल एक शून्य-निवेश मॉडल है जिसमें उपभोक्ता को केवल उत्पन्न विद्युत के लिए ही भुगतान करना पड़ता है, जबकि सोलर प्लांट RESCO डेवलपर की स्वामित्व में होती है।

Benefits of Solar Rooftop Subsidy Yojana | योजना के लाभ

इस योजना की मुख्य उद्देश्य यह है कि सोलर छत के माध्यम से नागरिकों को मुफ्त बिजली प्रदान की जाएगी। अपने समूह आवास में सोलर पैनल स्थापित करके, बिजली लागत 30 से 50 प्रतिशत तक कम हो जाएगी। इस योजना के तहत, 500 किवी तक की सोलर छत के स्थापना पर अनुदान की उपयोगिता प्रदान की जाएगी।

सोलर छत के माध्यम से लोग 25 साल के लिए बिजली प्राप्त करेंगे जिसमें खर्च 5 से 6 साल में पूरे हो जाएंगे। इसके बाद लोग 19 से 20 साल तक मुफ्त बिजली प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना में 1kw सोलर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर की जगह की आवश्यकता है।

Official Website पर Subsidy संरचना के अनुसार:

  • 2 kW तक प्रति kW के लिए 30,000 रुपये का अनुदान
  • अतिरिक्त क्षमता तक प्रति kW के लिए 18,000 रुपये का अनुदान
  • 3 kW सीमा से अधिक प्रणालियों के लिए कुल अनुदान 78,000 रुपये तक।
औसत मासिक बिजली खपत (units)उपयुक्त Rooftop Solar Plant क्षमता
0-1501 – 2 kW
150-3002 – 3 kW
3003 kW ऊपर

Eligibility for Solar Rooftop Subsidy Scheme

इस योजना के तहत सोलर पैनल अपनी छतों पर स्थापित करना चाहने वाले इच्छुक नागरिकों को निम्नलिखित मानदंड पढ़ने चाहिए:

  • आवेदक भारत के निवासी होने चाहिए।
  • सोलर पैनल में स्थापित सोलर सेल भारत में बने होने चाहिए।
  • देश के सभी नागरिक इस योजना के लिए योग्य हैं।

Documents Required for Solar Rooftop Subsidy Scheme | आवश्यक दस्तावेज़

सोलर छत योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज़ होने चाहिए:

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • बैंक पासबुक
  • बिजली बिल
  • फोन नंबर
  • मतदाता पहचान पत्र
  • स्थायी पता सिद्ध
  • पासपोर्ट आकार की तस्वीर
  • पैन कार्ड
  • घर की छत की तस्वीर
  • आय प्रमाण

और पढ़े : सूरत डायमंड बोर्स, दुनिया का सबसे बड़ा Office complex
Sukanya Samriddhi Yojana: सरकार दे रही है 8.20% का ब्याज

How to Apply for the Rooftop Solar Scheme Online | ऑनलाइन आवेदन

अगर आप सरकार द्वारा सोलर पैनल स्थापित करने के लिए प्रदान की जाने वाली सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए, पहले आपको pmsuryaghar.gov.in पर सोलर छत योजना वेबसाइट पर पंजीकरण करना होगा।

Solar Rooftop Subsidy Yojana Official Website
Solar Rooftop Subsidy Yojana Official Website
  • Step 1: Registration | रजिस्ट्रेशन
    • अपना राज्य चुनें
    • अपनी विद्युत वितरण कंपनी का चयन करें
    • अपना बिजली उपभोक्ता नंबर दर्ज करें
    • मोबाइल नंबर दर्ज करें
    • ईमेल दर्ज करें
    • कृपया पोर्टल के निर्देशानुसार आगे बढ़ें
  • Step 2:
    • मोबाइल नंबर से Login करें
    • छत के लिए Apply करें
    • आवेदन के किसी भी चरण में बैंक जानकारी जमा करें
  • Step 3: एक बार जब आपको उपलब्धता की मंजूरी मिल जाए, तो अपने DISCOM में किसी भी  registered vendors विक्रेता से स्थापित करवाएं
  • Step 4: एक बार इंस्टॉलेशन पूरा हो जाने पर, प्लांट का विवरण जमा करें और नेट मीटर के लिए आवेदन करें।
  • Step 5: नेट मीटर की स्थापना और डिस्कॉम द्वारा निरीक्षण के बाद, पोर्टल से कमीशनिंग प्रमाणपत्र उत्पन्न किया जाएगा
  • Step 6: एक बार जब आपको कमीशनिंग रिपोर्ट मिल जाए। पोर्टल के माध्यम से बैंक खाते का विवरण और एक रद्द चेक जमा करें। आपको 30 दिनों के भीतर आपके बैंक खाते में आपकी सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी।

Calculate Rooftop Solar Installation Cost| लागत और बजट की गणना करें

आप Official Website होम पेज पर सोलर कैलकुलेटर लिंक का उपयोग करके अपनी आवश्यकता और बजट के अनुसार लागत राशि की गणना कर सकते हैं। आपको इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी और सबमिट पर क्लिक करना होगा। फिर आप नीचे दी गई संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

Solar Calculator
Solar Calculator

और पढ़े : सूरत डायमंड बोर्स, दुनिया का सबसे बड़ा Office complex
Sukanya Samriddhi Yojana: सरकार दे रही है 8.20% का ब्याज

धन्यवाद इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए। उम्मीद है आपको सोलर रूफटॉप योजना के बारे में कुछ अच्छी जानकारी मिली होगी। कृपया ऐसे सूचनात्मक विषय पाने के लिए टिप्पणी करें, साझा करें और हमारे ब्लॉग का अनुसरण करें।

Leave a Comment